दोस्तो, हम आज जानेंगे कि, दिन में सोने के फायदे और नुकसान क्या है, और किसे दिन में सोना चाहिए और किसे नही सोना चाहिए, बहुत से लोगों को पता ही नही की दिन में कितनी देर सोना चाहिए, ऐसेमें आप अपने स्वास्थ्य को कही खराब तो नही कर रहे हो?


अकसर देखा जाता है कि, दिन में घर पर रहने वाले लोग दिन में दोपहर को एक झपकी लेना नही भूलते, वे रोज एक झपकी तो लेते ही है, घर की महिला हो या पुरुष दोपहर को खाना खाने के बाद सोना जरूर पसंद करते है।


दिन में सोने का इनके पास कारण भी होता है, अगर कही आप रातभर किसी वजह से नही सो पाते हो, तो आप दिन में जरूर सोते हो, जिसके फायदे भी है और नुकसान भी, लेकिन क्या आप जानते हो कि दिन में किन लोगों को सोना चाहिए और किन लोगों नही, ये तो हम इस लेख में जानेंगे ही, लेकिन इसके पहले आप ये जान ले कि दिन में सोने के फायदे और नुकसान क्या है, इससे आपको पता चलेगा कि, दिन में सोना कितना फायदेमंद है और कितना नुकसानदायक, तो चलिए जानते है।



दिन में सोने के फायदे और नुकसान क्या है | Advantages and disadvantages of sleeping during the day in hindi


दिन में सोने के फायदे और नुकसान क्या है | Din Me Sone Ke Fayde Aur Nuksan
Din me sone ke fayde aur nuksan hindi tips

Table of content


  1. दिन/दोपहर में सोने के फायदे
  2. दोपहर में सोने के फायदे किन लोगों को होते है?
  3. दिन में सोने के क्या नुकसान है?
  4. किन लोगों को दिन में बिल्कुल नही सोना चाहिए?



दिन/दोपहर में सोने के फायदे (advantages of sleeping during the day in hindi)


हम यह जानने वाले है कि, दिन/दोपहर में सोने के क्या क्या फायदे हो सकते है, जिससे आपको दिन में सोने का कुछ फायदा हो सके, तो आइए देखते है नीचे दिए गए पॉइंट्स के जरिये विस्तार से जानते है।


1. व्यक्ति की याददाश्त :


व्यक्ति की याददाश्त एक महत्वपूर्ण पॉइंट है, जिससे व्यक्ति की याददाश्त कितनी कमजोर या मजबूत है, ये जान जाता है, एक शोध के अनुसार दिन में सोने वाले लोगों की याददाश्त, दिन में ना सोने वाले लोगों के मुकाबले में मजबूत होती है, इसका कारण माइंड का रिलैक्स होना भी हो सकता है।


शोध के अनुसार ये भी कहा गया है कि, जो बच्चे दिन में सोते है, और उठने के बाद अगर वे कुछ पढ़ते है, तो उनको उस वक़्त पढ़ी वाली बातें जल्दी याद रहती है।


2. हार्ट अटैक रोगियों के लिए फायदा :


हार्ट अटैक वाले रोगियों के लिए दिन में सोना अच्छा होता है, जिससे आप रिलैक्स महसूस करते हो, और आपकी थकान दूर हो जाती है, और हार्ट अटैक का खतरा नही रहता, ज्यादा सोना हानिकारक हो सकता है।


3. चिड़चिड़ापन कम करे :


अकसर हम देखते है की, ऑफिस के काम ज्यादा होने से या किसी अन्य वजह से हम में कभी कभी चिड़चिड़ापन आ जाता है, और हमारा मूड खराब हो जाता है, अगर ऐसे में हम एक दोपहर की 30 मिनट की झपकी लेते है, तो उठने के बाद हमारा माइंड फ्रेश रिलैक्स महसूस करेगा, और हमारे चिड़चिड़े मूड को भी बेहतर बनाएगा।


4. पाचन शक्ति करे मजबूत :


आप सोचेंगे कि पाचन शक्ति दिन में सोने से कैसे कम हो सकती है, लेकिन ये सच है कि, दिन के दोपहर में सोने से पाचन शक्ति बढ़ती है, लेकिन सोने के भी कुछ तरीके होते है, जैसे सोते वक्त सिर को अपने बाएं हाथ के ऊपर रखके सोने से इसमे बहुत फायदा मिलता है।


5. दिल को स्वस्थ रखे :


क्या आपको पता है कि, दिन के दोपहर को सोने से दिल की बीमारी होने का खतरा कम हो जाता है, तो मैं बतादु की ये सच है, दिन में सोने से अपना दिल रिलैक्स महसूस करता है, और दिल की धड़कने नियंत्रण में धड़कती रहती है, जैसे रात की नींद दिल के लिए अच्छी मानी जाती है, वैसे ही दोपहर की 40-45 मिनट की नींद दिल के लिए अच्छी मानी जाती है।


6. तनाव को कम करे :


आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में थकान और उसके बाद काम का तनाव ये तो लगा ही है, अगर आप रोज थकान भरी या तनावपूर्ण ज़िन्दगी जी रहे हो, तो आपको रोज 30 मिनट की दोपहर की झपकी जरूर लेनी चाहिए, इससे आपका दिमाग रिलैक्स महसूस करेगा, और थकान को दूर कर तनावमुक्त करेगा।



दोपहर में सोने के फायदे किन लोगों को होते है?


वो कोनसे लोग है जिन्हें दोपहर में सोने के फायदे होते है, ये नीचे विस्तार से पढ़िए।


1. कुपोषित लोगोंको :


आप समझ सकते है कि, कुपोषित लोगों का वजन बहुत कम होता है, उन्हें अपना वजन बढ़ाने के लिए दिन में सोना चाहिए, वजन बढ़ाने में इसका फायदा मिलेगा।


2. चिड़चिड़ेपन स्वभाव के लोग :


आपको पता होगा कि किसी किसी का स्वभाव चिड़चिड़ा होता है, ऐसे लोगों को दिन में सोने से मन शांत होता है, और वे फ्रेश महसूस करते है।


3. विद्यार्थी (student) : 


सुबह का स्कूल या कॉलेज जानेसे और वहाँसे वापस घर लौटने पर स्टूडेंट थकान महसूस करते है, इसीलिए दिन की एक 30-40 मिनट की झपकी उन्होंने जरूर लेनी चाहिए, ताकि उनका स्टडी में मन लग सके।


4. तनावपूर्ण लोग :


जिन लोगोंको ज्यादा काम होता है, या फिर रातभर काम करते है, उन लोगो को रात की नींद न लेने से तनाव और थकान तो आते ही है, ऐसे लोगों ने भी दिन में सोना जरूरी होता है, इससे तनाव के साथ थकान भी दूर हो जाती है।


5. बुजुर्ग लोग :


बुजुर्ग लोगोका शरीर थका हुआ होता है, उन्हें नींद की जरूरत ज्यादा होती है, ऐसेमें बुजुर्ग लोग दिन में कुछ देर सोते है, तो उन्हें थोड़ा अच्छा महसूस होगा, और थकान काफी हद तक कम होती है।


दिन में सोने के क्या नुकसान है? (disadvantages of sleeping during the day in hindi)


क्या दिन में सोने के नुकसान भी होते है? ये सवाल कभी आया है आपके मन मे, अगर नही आया तो आपको बता दु की, हां दिन में सोने के नुकसान भी है, चलिए वो भी जानते है।


1. मधुमेह का खतरा :


जिन लोगों को मधुमेह की समस्या है, उन्हें दिन में ज्यादा नही सोना चाहिए, क्योंकि मधुमेह बढ़ने का खतरा रह सकता है, अगर आप न सोये तो आपके लिए अच्छा ही है, लेकिन आप 10-15 मिनट की झपकी ले सकते है, दिन में ज्यादा देर तक सोने से परहेज करें।


2. रात को नींद ना आना :


अगर आप दिन में 7 से 8 घंटे देर तक सोते है, तो आपको रात को अच्छी नींद नही आएगी, और रात को हमारी नींद सबसे अच्छी होती है, और रात को सोना जरूरी है, लेकिन दिन में ज्यादा देर तक सोने से आपको ये परेशानी झेलनी पड़ सकती है, और ब्रेन हैमरेज और दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ सकता है।


3. याददाश्त कम होना :


किसी भी चीज की अति करना हानिकारक हो सकता है, जैसे कि आप दिन में ज्यादा देर तक सोते है, तो इसका असर आपके याददाश्त पर पड़ सकता है, और आपका दिनमे रोज सोना आपकी याददाश्त को कम करता है।


4. एनर्जी का कम होना :


शायद अपने एक बात जरूर महसूस की होगी कि, आप अगर दिन में ज्यादा देर तक सोते हो और उठते ही आपको ढीलापन, या घबराहट जैसे महसूस होता होगा, और कभी कभी तो उठने की इच्छा तक नही होती, हमारी एनर्जी पूरी डाउन हो जाती है।


5. मोटापा और कब्ज की समस्या :


अगर आपका वजन ज्यादा हो तो आप दिन में ना सोये, क्योंकि इसमें आपका मोटापा बढ़ सकता है, और कब्ज जैसी समस्या भी हो सकती है, इससे आपको कही रोगोकि समस्या हो सकती है।



किन लोगों को दिन में बिल्कुल नही सोना चाहिए?


दिन में सोना कोई गलत नही है, कोई भी सो सकता है, बिल्कुल भी नही सोना ये हम नही कहते, लेकिन दिन में ज्यादा देर तक सोना इन लोगों को भारी पड़ सकता है।


1. मोटापे से ग्रसित लोग :


मोटापे से जो लोग ग्रसित है, उनको दिन में ज्यादा देर तक सोने से तकलीफ हो सकती है, इससे उनका वजन बढ़ सकता है, और उनको ज्यादा आलस आ सकता है, जिससे वह एक्टिव नही रह सकते, ऐसे लोगो को ब्लड प्रेशर की समस्या भी हो सकती है, इसीलिए मोटापे से ग्रसित लोगोने दिन में सोना नुकसानदेह हो सकता है।


2. वजन को कम कर रहे लोगोंको :


वजन को कम कर रहे लो गोंको दिन में नही सोना चाहिए, क्योंकि अगर ऐसे लोग दिन में सोते है तो उनका वजन कम होने की बजाय बढ़ता चले जाएगा, और एक दिन मोटापे के शिकार हो सकते है, अलसी बन सकते है।


3. मधुमेह रोगियों को :


मधुमेह रोगियों को दिन में नही सोना चाहिए, अगर सोते भी हो तो 10 मिनट की झपकी ले सकते है, आपको मधुमेह ज्यादा नही बढ़ाना है तो आप ज्यादा नही सोये तो अच्छा है, आप हमेशा एक्टिव रहे।


दिन में सोने के किन लोगों को फायदे है और किन लोगों को नुकसान ये हमने यहाँ बताया है, इसका मतलब ये नही की आप सोये ही नही, आप सो सकते है लेकिन ज्यादा देर तक सोना तो सबके लिए हानिकारक साबित हो सकता है।



आपके पूछे गए कुछ सवाल और उसके जवाब (FAQ) :


Q.1  दिन में कितनी देर सोना है फायदेमंद?

Ans: अगर आप दिन में 15 से 30 मिनिट की झपकी लेते हो तो वो आपके लिए फायदेमंद होती है।


Q.2  आपके दिन में ज्यादा सोने से क्या होता है?

Ans: आपके दिन में ज्यादा सोने से आपकी एनर्जी लो हो जाती है, याने के सुस्त सा महसूस होता है।


Q.3  क्या दिन में सोना फायदेमंद है?

Ans: वैसे तो नही, लेकिन आप दिन में थकान महसूस कर रहे हो तो 10से 15 मिनिट सो सकते है।


Q.4  दिन में कब सोना चाहिए?

Ans: दिन में ना सोये तो बेहतर है, अगर सोना है तो ज्यादा देर तक न सोये।



अन्य पढे :


आपने इस लेख से क्या सीखा :


आपने दिन में सोने के फायदे और नुकसान क्या है इस लेख में ये सीखा की, आपको दिन में ज्यादा देर तक नही सोना है, इससे आपको कई समस्या का सामना करना पड़ सकता है, अगर आपको दिन में सोना है तो आप 10 या 15 मिनिट की झपकी ले सकते है, इससे आपका शरीर स्वस्थ रह सकता है, और आपका मन भी शांत रहेगा ।


इस लेख में दी गई सामग्री एवं जानकारी का उपयोग किसी बीमारियों को ठीक करने या स्वास्थ्य संबंधी समस्या उपचार के हेतु नहीं है। ये सलाह केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या चिकित्सक से परामर्श करे।


अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया हो तो शेयर जरूर करे, और ऐसेही स्वस्थ संबंधी जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।

और नया पुराने