दोस्तो, आप आज जानेंगे पपीता के पत्ते के जूस के फायदे और नुकसान के बारे में, आप सब को पता है कि, पपीता पौष्टिक तत्व से भरा एक गुणकारी फल है, और ये फल बाजार में आसानी से मिल जाता है, जो आप के सेहत के लिए बड़ा फायदेमंद होता है, लेकिन क्या आप जानते है कि, पपीता के पत्ते भी सेहत के लिए बड़े फायदेमंद होते है।


अगर हम आपको बताये की, पपीता का जूस कई बीमारी में लाभकारी होता है, तो क्या आप यकीन करेंगे, जी हां ये सच है कि किसी भी तरह के बुखार में ये बड़ा फायदेमंद होता है, जैसे कि, आजकल चल रहे डेंगू के बुखार में ये सबसे ज्यादा फायदेमंद होता है।


पपीता तो सब खाते है, लेकिन उनके पत्ते का जूस कैसे हमारे सेहत के लिए कैसे फायदा देता है, ये तो हम इस लेख में जानेंगे ही, इसके अलावा इसके नुकसान भी हम इस लेख में विस्तार से जानेंगे।


तो आइए नीचे इस पपीता के पत्ते के जूस के फायदे और नुकसान (benefits and side effects of papaya leaf juice in hindi) लेख में आपको सभी जानकारी देते है, और आपकी और हमारी सेहत को स्वस्थ रखने की कोशिश करते है।


पपीता के पत्ते के जूस के फायदे और नुकसान | Benefits And Side Effects Of Papaya Leaf Juice In Hindi


पपीता के पत्ते के जूस के फायदे और नुकसान | Papaya Leaf Juice Ke Benefits
Benefits and side effects of papaya leaf juice in hindi

Table of content


  1. पपीता के पत्ते का जूस पीने के फायदे (Papaya leaf juice benefits in hindi)
  2. पपीता के पत्ते के जूस के नुकसान (Papaya leaf juice side effects in hindi)
  3. पपीता के पत्ते का जूस बनाने की विधि
  4. पपीता के पत्ते का जूस कब पिये
  5. पपीता के पत्ते के जूस के पौष्टिक तत्व



पपीता के पत्ते का जूस पीने के फायदे (Papaya leaf juice benefits in hindi) :


पपीता के पत्ते का जूस हमारी सेहत के लिए लाभकारी होता है, और यही हम नीचे दिए गए मुद्दों से विस्तार में जानेंगे।


1. डेंगू के बुखार से छुटकारा :


आजकल डेंगू का खौफ सबमे दिखयी दे रहा है, क्योंकि ये बड़े तेजी से फैल रहा है, डेंगू मच्छर के काटने से होता है, और इससे बुखार, सिरदर्द जैसी समस्या बढ़ जाती है, डेंगू आपके प्लेटलेट्स भी कम करता है, जिससे इंसान की मौत भी हो सकती है।


अगर आपको डेंगू के बुखार से बचना है, तो पपीता के पत्ते का जूस जरूर पीना चाहिए, और जिसको डेंगू हो चुका है, उन्हें तो ये जूस पीने की सलाह दी जाती है, जिससे आपके प्लेटलेट्स बढ़ते है, और आप डेंगू से छुटकारा पा सकते है, इसमे होने वाले कुछ पौष्टिक गुण आपकी डेंगू बीमारी को मिटा सकता है।


2. इम्युनिटी को बढाए :


इम्युनिटी पॉवर हमारे शरीर को स्वस्थ रखती है, जिससे हमें हर बीमारी से लड़ने की ताकत मिलती है, अगर इम्युनिटी कम हो जाये तो हम बीमार पड़ जाते है, लेकिन इम्युनिटी को बढ़ाने में पपीता के पत्ते का जूस बड़ा काम आता है, इसे कुछ हफ्ते रोज पीने से हमारी इम्युनिटी बढ़ सकती है, जो किसी भी वायरस के साथ लड़ने में हमारी मदद करती है, और हमे बीमार होने से बचाती है।


3. लिवर संबंधी रोगों से छुटकारा :


लिवर संबंधी कई रोग हमे हमारी बुरी आदतें और खराब जीवनशैली की वजह से होते है, जैसे शराब ज्यादा पीना हमारी बुरी आदत में आता है, और खराब खान पान ये हमारी खराब जीवनशैली है, जो लिवर को कमजोर करता है, और रोगों का कारण बनता है, इसमे पपीता के पत्ते का रस मददगार साबित हो सकता है, ये रस लिवर की गंदगी साफ करता है, और पहले जैसा स्वस्थ बनाने में मदद कर सकता है।


4. पाचन समस्या में सहाय्यक :


पाचन की समस्या बहुतोंको होती है, इसका कारण खराब खान पान और अपनी जीवनशैली में बदलाव के कारण होता है, पपीता के पत्ते का जूस इसे सुधारने में मददगार साबित हो सकता है, क्योंकि पपीता के पत्तो में एंजाइम पपैन गुण होता है, जो पाचन समस्या को सुधारने में सहाय्यक होता है, और पेट के अल्सर को भी ठीक करने में मददगार साबित हो सकता है।


5. ब्लड शुगर को कम करता है :


ब्लड शुगर का बढ़ना हमारे शरीर को अस्वस्थ बनाता है, जिसके कारण फैटी लिवर और गुर्दे पर इसका परिणाम होता है, पपीता के पत्ते का जूस इसमे कारगर होता है, क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो ऐसे इसके घातक परिणाम होने से रोकता है, और इन्सुलिन को नियंत्रित कर ब्लड शुगर के बढ़ते लेवल को कम करने में मदद करता है।


6. त्वचा की समस्या से छुटकारा :


पपीता के पत्ते का जूस त्वचा की हर समस्या के लिए फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें विटामिन-ए और विटामिन-सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है, और ये दोनों विटामिन्स त्वचा के लिए अच्छे माने जाते है, जो चेहरे की झाइयां और मुहाँसों को साफ करता है, और आपकी त्वचा को सुंदर और स्वस्थ बनाती है, इसका सेवन आपकी त्वचा के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।


7. बालों को बढ़ाये और चमकदार बनाये :


पपीता के पत्ते का जूस पीने से आपके बालों को बढ़ने में मदद मिल सकती है, इसके अलावा बालों की समस्या को दूर कर सकता है, जैसे गंजापन होने से बचाये, बालों को पतला बनाये रखे, ये कारपैन योगिक होता है, इसीलिए इसका एंटीडैंड्रफ शैम्पू में उपयोग किया जाने वाला एक घटक है।


इसे प्राकृतिक कंडिशनर के रूप में भी इस्तेमाल किया जा सकता है, जो आपके बालों को चमकदार बनाने में मदद करता है, और आपके स्कैल्प की गंदगी को साफ करता है।


8. कैंसर के खतरे को कम करता है :


आजकल कैंसर की समस्या बढ़ने से लोग त्रस्त हो चुके है, इसका खतरा कम करने के लिए पपीता के पत्ते का जूस सहाय्यक हो सकता है, पपीता के पत्तो में एंजाइम गुणों के कारण ये कही कैंसर में मददगार साबित हो सकता है, जैसे लिवर कैंसर, ब्रैस्ट कैंसर, लंग कैंसर जैसे कैंसर से लड़ सकता है।


पपीते के पत्ते कीमोथेरेपी के होने वाले दुष्प्रभाव को भी कम करने में मददगार साबित हो सकता है, और सूजन को कम कर सकता है, इसका सेवन कैंसर जैसे भयानक रोग को कम करने में सहाय्यक हो सकता है।



पपीता के पत्ते के जूस के नुकसान (Papaya leaf juice side effects in hindi) :


पपीता के पत्ते का जूस अगर फायदेमंद है, तो इसके कई नुकसान भी है, हर किसीको ये जूस नही लेना चाहिए, इससे कही समस्या निर्माण हो सकती है, इसे कम मात्रा में और डॉक्टर की सलाह से ही ले, नीचे दिए गए नुकसान के बारे में पढे, आपको समझ आएगा कि, किसे नही पीना चाहिए ये रस।


1. एलर्जी :


जिन लोगों को एलर्जी की समस्या है, उन्हें पपीता के जूस/रस का सेवन नही करना चाहिए, ये आपके लिए हानिकारक हो सकता है, अगर इसे पीते हो तो अपने किसी डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।


2. बांझपन की समस्या :


कही लोग है जो किसी भी चीज़ की अति करते है, जैसे कि अगर आप पपीता के पत्ते के जूस का सेवन ज्यादा मात्रा में लेते है, तो आपको बांझपन की समस्या हो सकती है, अपने डॉक्टर या डाइट कोच से सलाह ले उसके बाद ही इसे सेवन करे।


3. गर्भवती महिला ना ले :


गर्भवती महिला पपीते के पत्ते का जूस/रस अपने सलाहकार याने अपने डॉक्टर की सलाह से ही इसे ले, क्योंकि इसका ज्यादा सेवन गर्भवती महिला के पेट मे पल रहे शिशु पर बुरा असर डाल सकता है।



पपीता के पत्ते का जूस बनाने की विधि :


अगर आपके मन मे पपीता के पत्ते का जूस/रस कैसे बनाये ये सवाल आता है तो आप नीचे दिए गए विधि का प्रयोग कर सकते है।


सामग्री :


1. पपीते के 8 से 10 ताजे पत्ते

2. दो चम्मच पानी


बनाने का तरीका :


1. ताजे 8 से 10 पपीते के पत्ते ले।

2. उसे अच्छे से पानी से धो ले।

3. ग्राइंडर में ग्राइंड कर ले, आप थोड़ा पानी भी डाल सकते है।

4. उसे छलनी या सूती कपड़े से गिलास में छान लें।

5. और उसे मजे पिये।



पपीता के पत्ते का जूस कब पिये :


पपीते के पत्ते का जूस आप अगर सवेरे खाली पेट लेते है, तो आपको इसका सही लाभ मिल सकता है, आपकी पाचन की समस्या तो दूर होगी ही लेकिन साथ साथ पेट की भी समस्या दूर होगी, और शरीर मे से विषाक्त पदार्थ निकालके शरीर को डिटॉक्स करेगा, आपका वजन कम होगा, ये सब पपीते के पत्ते का खाली पेट सुबह रस पीने से होगा।



पपीता के पत्ते के जूस के पौष्टिक तत्व :


पपीता के पत्ते के जूस में कई ऐसे पौष्टिक तत्व पाए जाते है, जो शरीर की लगभग सभी समस्या को दूर रखने में सहाय्यक होते है, आइए जानते है, इसमे मौजूद पौष्टिक तत्व।


पपीता के पत्ते के जूस में विटामिन-सी,ई,ए, पपैन, सुडोकर्पेन, कोलिन, अल्कालोइड्स, कार्पोसाइड, सिनोजेनिक योगिक, एंटी हैपरटेंसिव आदि पौष्टिक तत्व पाए जाते है।



आपके पूछे गए कुछ सवाल और उसके जवाब (FAQ) :


Q.1  पपीते के पत्ते का जूस कब पीना चाहिए?

Ans: पपीते के पत्ते का जूस सुबह खाली पेट पीना चाहिए, इसे खाली पेट पीने से लाभ जल्दी मिलता है।


Q.2  पपीता के पत्ते का रस दिन में कितनी बार पीना चाहिए?

Ans: पपीता के पत्ते का रस दिन में 2 से 3 बार पी सकते है, एक बार मे सिर्फ 2 चम्मच का सेवन कर सकते है।


Q.3  पपीता के पत्ते का जूस का उपयोग बताये?

Ans: पपीते के पत्ते का जूस का उपयोग आप इसका जूस बनाकर पीने में कर सकते है, अगर ये कड़वा लगे तो उसमें शहद डालकर भी पी सके हो।


Q.4  पपीता के पत्ते के जूस पीने से क्या फायदा?

Ans: पपीता के पत्ते का जूस पीने से प्लेटलेट्स बढ़ते है, इम्युनिटी पॉवर बढ़ता है, डेंगू बुखार को करे कम आदि।



अन्य पढे :


आपने इस लेख से क्या सीखा :


आपने पपीता के पत्ते के जूस के फायदे और नुकसान (benefits and side effects of papaya leaf juice in hindi) इस लेख से ये सीखा की, पपीता के साथ साथ पपीता के पत्ते भी हमारे शरीर के लिए फायदेमंद होते है, और जितने इनके फायदे (benefits) होते है, उतने ही नुकसान (side effects) भी होते है, इसीलिए इसे ज्यादा मात्रा में सेवन ना करे, और जिनको एलर्जी की समस्या है, वो डॉक्टर की सलाह से ही ये जूस पिये।


इस लेख में दी गई सामग्री एवं जानकारी का उपयोग किसी बीमारियों को ठीक करने या स्वास्थ्य संबंधी समस्या उपचार के हेतु नहीं है। ये सलाह केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या चिकित्सक से परामर्श करे।


अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया हो तो शेयर जरूर करे, और ऐसेही स्वस्थ संबंधी जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।

और नया पुराने