दोस्तों, इस लेख में उपवास के फायदे और नुकसान के बारे में हम जानेंगे जो आपको बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है, ताकि आपको पता चले कि कब हमे उपवास में क्या खाना चाहिए और क्या नही, तो चलिए जानते है।


हम आपको बता दे कि, उपवास तो हम रखते ही है चाहे गणेश उत्सव हो या नवरात्रि उत्सव लेकिन नवरात्रि उत्सव में नौ दिन का उपवास रखा जाता है, उसमे हम क्या खाएं और क्या न खाए इसके बारे में इस लेख में दिया गया है।


इस लेख को आप पढे और उपवास में क्या खाना चाहिए और क्या नही खाना चाहिए ये समझ ले, उपवास के फायदे और नुकसान के बारे में आप इस लेख में जान ले।


उपवास के फायदे और नुकसान क्या है | Fasting Benefits And Side Effects In Hindi


उपवास के फायदे और नुकसान क्या है | Fasting Benefits And Side Effects In Hindi
Fasting benefits and side effects in hindi

Table of content


  1. उपवास कब रखना चाहिए और कैसे?
  2. उपवास के प्रकार (Types of fasting in hindi)
  3. उपवास के फायदे (Benefits of fasting in hindi)
  4. उपवास के नुकसान (Side effects of fasting in hindi)
  5. उपवास में क्या खाना चाहिए?
  6. उपवास में परहेज करे



उपवास कब रखना चाहिए और कैसे?


उपवास तो लोग ज्यादातर नवरात्रि में ही रखते है, और कभी किसी और उत्सव में भी रखते है, लेकिन आप तभी उपवास रखे जब आपका स्वास्थ्य अच्छा हो नाकि तब जब आपका स्वास्थ खराब हो, इससे आपके स्वास्थ्य को हानि हो सकती है, 



उपवास के प्रकार (Types of fasting in hindi)


उपवास के प्रकार बहुत होते है, जिसमे आप कभी भी उपवास के पदार्थ खा सकते है, नीचे इसके प्रकार आपको पढ़ने को मिल जाएंगे।


1. सुबह और शाम का उपवास

2. जूस या रस का उपवास

3. फल का उपवास

4. दूध का उपवास

5. निर्जला उपवास 


तो ये उपवास के प्रकार होते है, जो उपवास के दिन को पावन बनाते है।



उपवास के फायदे (Benefits of fasting in hindi)


क्या आपको पता है कि, उपवास के फायदे भी होते है? तो हां उपवास के फायदे भी होते है, जो हमारे शरीर स्वास्थ के लिए अच्छे होते है, आईये फायदों के बारे में नीचे पढ़ते है।


1. वजन कम होता है :


वजन की समस्या से कई लोग ग्रसित होते है, इसका कारण उनका बेवक़्त लगातार खाना होता है, ऐसे लोग खाने के शौकीन होते है, ऐसेमें उनके शरीर मे ज्यादा फैट जमा होने से वजन, मोटापा जैसी समस्या होती है, अगर वजन को कम करना है तो उपवास एक अच्छा विकल्प हो सकता है, वजन कम करने के लिए आप हफ्ते में एक बार उपवास जरूर रखे इससे आपको कुछ फर्क जरूर देखने मिल सकता है।


2. पाचन तंत्र को सुधारे :


आजकल हम सिर्फ खाते ही रहते है, हमारा खाने का कोई वक़्त नही होता कभी भी कही भी बस चालू हो जाते है, इससे हमारा पाचन तंत्र बिगड़ता है, और हमे एसिडिटी, अपचन और पेट की समस्या होने लगती है, अगर हम महीने में 4 या 5 बार उपवास रखते है तो हमारे लिवर और किडनी को आराम मिलता है, और हमारे पाचन तंत्र को भी सुधार मिलता है, एसिडिटी, अपच जैसी समस्या दूर हो सकती है।


3. प्रतिरक्षा प्रणाली (immune system) को मजबूत बनाए :


इम्यून सिस्टम को मजबूत रखने के लिए हफ्ते में एक बार उपवास तो जरूर रखना चाहिए, हफ्ते में एक दिन उपवास रखने से हमारा शरीर आराम महसूस करता है, इससे हमारे शरीर मे इम्यून सिस्टम बेहतर तरीके से काम करता है, और इसे बूस्ट मिलती है, जिससे सर्दी, खाँसी आदि जैसी बीमारियां दूर रहती है।


4. कोलेस्ट्रॉल को कम करे :


ज्यादा वजन बढ़ने से शरीर मे फैट जमा होने लगता है, जो खराब कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में मदद करता है, जिससे ब्लड सर्कुलेशन अच्छेसे नही हो पाता है, और दिल की समस्या बढ़ने लगती है, ब्लड हार्ट तक ना पहुचने से हार्ट अटैक का खतरा भी हो सकता है, कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए हफ्ते में 2 बार उपवास जरूर रखना चाहिए, जिससे शरीर में से वसा की मात्रा कम हो सके, और बढ़ता वजन कम हो सके, जिससे कोलेस्ट्रॉल कम हो जाये और आपका स्वास्थ्य अच्छा रहे।


5. चिंता, तनाव और अनिद्रा को रखे दूर :


क्या आपको पता है कि, उपवास रखने से शरीर को तो आराम मिलता ही है, लेकिन ये हमारे मानसिक तनाव को भी शांत रखता है, जिससे अनिद्रा की समस्या दूर हो सकती है, आजकल चिंता तनाव से हमारी नींद भी पूरी नही हो पाती है, जिससे कई समस्या होती है, अगर हफ्ते में एक दिन उपवास रखे तो ये सारी समस्या दूर हो सकती है, इसीलिए उपवास (fasting) जरूर रखे।



उपवास के नुकसान (Side effects of fasting in hindi)


उपवास के फायदे है तो उसके नुकसान और भी ज्यादा भयंकर होते है, अगर आप इसे कभीभी करते हो या उपवास में कुछ भी पदार्थ खाते हो तो, आइए इसके नुकसान जानते है।


1. घबराहट जैसा होना :


अगर आप उपवास में हेल्थी फूड्स नही खाते हो तो आपको घबराहट जैसा महसूस हो सकता है, क्योंकि आपके शरीर को ज्यादा उपवास की आदत नही होती है, इससे आपका शरीर घबराहट जैसा महसूस करता है, जिससे आपके शरीर की शर्करा की मात्रा असंतुलित होती है, इसके लिए उपवास में आपको हेल्थी फ्रूट्स, फूड्स खाने की आवश्यकता होती है।


2. चक्कर या कमजोरी आना :


अगर आप पहले से ही बीमार हो और उसमें आप उपवास रख रहे हो तो आपको कमजोरी आना आम बात है, और कमजोरी आती है तो चक्कर तो जरूर आएगा ही, अगर आप बीमार हो तो उपवास नही करना चाहिए इससे आपको चक्कर और कमजोरी जैसी समस्या हो सकती है, अगर उपवास कर रहे हो तो हेल्थी फूड्स ज्यादा खाना चाहिए जिससे आपको अच्छा महसूस हो।


3. चिड़चिड़ापन की समस्या :


क्या आप साल में सिर्फ नवरात्रि के दिन उपवास रखते हो? याने लगातार 9 दिन के उपवास जो सिर्फ नवरात्रि के दिन ही रखे जाते है, अगर आपको उपवास रखने की आदत नही है, और साल में अचानक आप नवरात्रि के दिन 9 दिन उपवास रखते हो तो आपको चिड़चिड़ापन सा हो सकता है, क्योंकि इसकी आपको आदत नही होती है, आपके शरीर को खाना चाहिए होता है, लेकिन आप दबादस्ती खाना नही खाते हो तो आप चिड़चिड़ापन से करने लगते हो।


4. पेट की समस्या :


उपवास के तुरंत बाद जब हम एकदम से ज्यादा खाने लगते है उससे पेट की समस्या बढ़ सकती है, उपवास जब हम करते है तो हमारे शरीर मे थोड़ा थोड़ा फूड्स जाता है, और हम हेल्थी फूड्स खाते है, लेकिन उपवास के बाद हम अचानक भारी फूड्स खाने से शरीर एकदम से इतना सारा खाना पचा नही पाता है, इससे पेट और अपच जैसी समस्या होती है।



उपवास में क्या खाना चाहिए?


उपवास रखना अच्छा भी होता है और किसी किसी के लिए अच्छा नही भी होता, अगर उपवास रखना ही है, तो खुदका स्वास्थ्य अच्छा होना भी जरूरी है, जिससे आपको आगे कोई समस्या का सामना ना करना पड़े, जिसके लिए उपवास में हमे क्या खाना चाहिए ये बताया है।


1. ताजे फलों के जूस का सेवन करे।

2. ताजे फलों का सेवन करे।

3. दूध या कॉफी का सेवन करे।

4. अच्छे डॉयफ्रूइट्स खाये।

5. हरे सब्बियों को बिना नमक पकाकर खाये।


आपको ऐसे हेल्थी फूड्स का सेवन उपवास में जरूर करना चाहिए, जिससे आपके सेहत पर कोई फर्क नही पड़ेगा और आपको कोई भी समस्या नही होगी, आप आप के व्रत को खुशी खुशी कर लेंगे।



उपवास में परहेज करे :


आपको उपवास में खाने के मामले में ध्यान देना जरूरी होता है, कुछ चीजो को आपको परहेज भी करना होता है, हमने नीचे दिए पदार्थों को आप परहेज कर सकते है।


1. अगर आप स्वास्थ संबंधी दवा का सेवन कर रहे हो तो आप उपवास नही करे।


2. ध्यान रखे कि अगर आप व्यायाम के शौकिन है, और आप उपवास रखते है, तो आप व्यायाम को कम ही करे ज्यादा व्यायाम उपवास के दौरान नही करे।


3. अगर आप पहली बार उपवास कर रहे हो तो लंबी अवधि वाले उपवास से बचे।


4. उपवास के दौरान तले पदार्थों को खाने से बचे, हमेशा हेल्थी फूड्स का ही सेवन करे।


5. उपवास के बाद ज्यादा भूख लगने से एकदम से भारी खाना नही खाना चाहिए, थोड़ा थोड़ा खाने से शुरुवात करे।



(FAQ) :


Q.1  क्या उपवास के दौरान पानी पी सकते है?

Ans: जी हां, पी सकते है लेकिन ये निर्भर करता है कि, अपने किस प्रकार का उपवास किया है, निर्जला उपवास में आप पानी नही पी सकते।


Q.2  उपवास कब नही करना चाहिए?

Ans: अगर आप पहले से ही बीमार है, और आपको स्वास्थ संबंधी कोई दवा शुरू है, तब आपको उपवास नही करना चाहिए।


Q.3  ज्यादा उपवास रखने से क्या होता है?

Ans: अगर आपको उपवास रखने की आदत नही, तो अपने ज्यादा उपवास नही रखना चाहिए इससे आपके स्वास्थ्य को हानि हो सकती है, आप भूख के कारण चिड़चिड़ापन महसूस कर सकते है।


Q.4  उपवास में क्या खाना चाहिए?

Ans: उपवास में हमेशा हेल्थी फूड्स का सेवन ही करना चाहिए, जैसे ताजे फल, जूस आदि।



अन्य पढे :



आपने इस लेख से क्या सीखा :


आपने उपवास के फायदे और नुकसान क्या है (Fasting Benefits And Side Effects In Hindi) इस लेख में ये सीखा है कि, आपको उपवास कब रखना चाहिए, उपवास में हमे किन किन पदार्थो का सेवन करना चाहिए और किन पदार्थो का नही, उपवास करना अच्छी बात है लेकिन इसे अच्छे तरीके से किया जाए तो ये हमारे शरीर और स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है, इसीलिए कुछ सावधानियां हमें बरतना आवश्यक होता है।


इस लेख में दी गई सामग्री एवं जानकारी का उपयोग किसी बीमारियों को ठीक करने या स्वास्थ्य संबंधी समस्या उपचार के हेतु नहीं है। ये सलाह केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या चिकित्सक से परामर्श करे।


अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया हो तो शेयर जरूर करे, और ऐसेही स्वस्थ संबंधी जानकारी के लिए हमारे साथ जुड़े रहे।

और नया पुराने