दोस्तों romantic intezar shayari in hindi for girlfriend में आपका स्वागत है।जब भी प्यार की बात आती है गर्लफ्रैंड के इंतज़ार की बात आती है।उसके call की आने का तो सबसे ज्यादा इंतेज़ार रहता है।


इंतेज़ार तो किसी का भी रह सकता हमे लेकिन इस इंतेज़ार शायरी में तो रोमांटिक इंतेज़ार शायरी हिंदी में लिखी हुई है जो दर्शाता है कि आपका प्यार कितना इंतेज़ार कर सकता है आपके लिए।


Gf हो या bf या आपकी wife हो आप सब ने कभी न कभी तो एक दूजे का इंतज़ार किया ही होगा। रात भर इंतेज़ार किया हो या दिन भर या थोड़ी देर या ज़िन्दगी भर लेकिन किया जरूर होगा इसीलिए हम इंतेज़ार शायरी गर्लफ्रैंड लेके आये है तो इसे जरूर पढ़िए।


Romantic Intezar Shayari In Hindi For Girlfriend | इंतजार शायरी


Romantic Intezar Shayari In Hindi For Girlfriend | इंतजार
intezar shayari in Hindi images

Romantic Intezar shayari in hindi


जहाँ तुम न हो वहाँ हम भी नहीं,

जहाँ तुम हो वहाँ तुम मिलने तक,

कर लेता हु थोड़ा इंतज़ार ही सही।


Jaha tum na ho waha hum bhi nahi,

Jaha tum ho waha tum milne tak,

Kar leta hu thoda intezar hi sahi..!

#


जब से तुमको देखा है,

ये दिल बड़ा खामोश रहता है,

पता नहीं क्यों तुमसे मिलने का,

शायद इंतज़ार करता है।


Jab se tumko dekha hai,

Ye dil bada khamosh rehta hai,

Pta nahi kyun tumse milne ka,

Shayad intezaar karta hai..।

#


बारिश आती रहती है,

हवाएँ आती जाती रहती है,

पर पता नहीं ये दिल,

बस तेरे आने का इंतज़ार करता रहता है।


Barish aati rehti hai,

Hawayen aati jati rehti hai,

Par pata nahi ye dil,

Bas tere aane ka intezaar karta rehta hai..!

#


यू तो छोड़ दिया मैंने,

इंतज़ार करना किसी का,

लेकिन ये यादें भी,

बड़ी जालिम होती है,

इंतज़ार करवाती है बस उसका।


You to chhod diya maine,

Intezar karna kisi ka,

Lekin ye yaadein bhi,

Badi jalim hoti hai,

Intezar karwati hai bss usika..!

#


इन प्यारे फूलों ने बता दिया,

की अभी भी है तू मेरे दिल में,

इन लाल गुलाबों ने बता दिया,

की बस मैं करू तेरे आने इंतज़ार मेरे दिल में।


In pyare phoolon ne bata diya,

Ki abhi bhi hai tu mere dil me,

In laal gulabon ne bata diya,

Ki bas mai karu tere aane intezar mere dil me..!

#


तेरी राह देखते देखते,

थक गया हूं मै

तुझसे बिछड़ के बहुत,

पक गया हूं मै।


Teri raah dekhte dekhte,

Thak gaya hu mai,

Tujhse bichhad ke bahut,

Pak gaya hu mai..!



Gf ka intezar shayari in hindi


बाहों में तेरी बस जाऊंगा मै,

यादों में तेरी रह जाऊँगा मै,

इंतज़ार मत करवा तू मुझे इतना,

तुझे छोड़ के चला जाऊँगा मै।


Baho me teri bas jaunga mai,

Yadon mein teri reh jaunga mai,

Intezar mat karwa tu mujhe itna,

Tujhe chhod ke chala jaunga mai..!

#


तुझे छोड़ के नहीं जाऊँगा मैं,

तुझे पाके ही दम लूँगा मै,

एक न एक दिन जरुर आएगी तू मेरी बाहों में,

थोड़ा इंतज़ार कर लूँगा मै।


Tujhe chhod ke nahi jaunga main,

Tujhe pake hi dam lunga mai,

Ek na ek din jarur aayegi tu meri baho me,

Thoda intezar kar lunga mai..!

#


तुझसे बिछड़ के,

न हो पायेगा अब ये इंतज़ार,

कल ही आजा गाँव से,

कर लेंगे हम थोड़ा प्यार प्यार प्यार।


Tujhse bichhad ke,

Na ho payega ab ye intezar,

Kal hi aaja gaon se,

Kar lenge hum thoda pyar pyar pyar..!

#


यू तो इंतज़ार की घड़ियां खत्म हो गयी,

तू मेरे प्यार में बेवफा जो हो गयी।


U to intezar ki ghadiyan khatam ho gayi,

Tu mere pyar me bewafa jo ho gayi..!

#


कर लेते थे इंतज़ार हम अब भी तेरा,

अगर तू छोड़ न जाती मुझे अकेला,

अब कभी न होगा वो प्यार का सवेरा,

रात काली और ये सारा दिन भी अँधेरा।


Kar lete the intezaar hum ab bhi tera,

Agar tu chhod na jati mujhe akela,

Ab kabhi na hoga wo pyar ka savera,

Raat kali aur ye sara din bhi andhera..!



Bf ka intezar shayari in hindi


क्यों जाते हो तुम मुझे छोड़ के बार बार,

क्यों करवाते हो तुम मुझसे इंतज़ार ज़ार,

मैं तुम्हे नहीं छोड़ने वाली,

क्युकी मैं करती हूँ तुमसे बहुत प्यार प्यार।


Kyu jate ho tum mujhe chhod ke bar bar,

Kyu karwate ho tum mujhse intezar zar,

Mai tumhe nahi chhodne wali,

Kyuki mai karti hu tumse bahut pyar pyar..!

#


कैसे थे वो दिन मेरे,

कैसी थी वो मुलाकाते,

जब भी तुम मुझसे न मिलते,

करती हूँ तुम्हारे मिलने के इंतज़ार में,

मै अपने आप से अकेली बातें।


Kaise the wo din mere,

Kaisi thi wo mulakate,

Jab bhi tum mujhse na milte,

Karti hu tumhare milne ke intezar me,

Mai apne aap se akeli batein..!

#


तुम मुझसे मिलो या न मिलो,

मैं भी तुमसे नहीं मिलूंगी,

बैठी रहूंगी रूठ कर एक जगह,

और तुम्हारे मनाने का इंतज़ार करुँगी।


Tum mujhse milo ya na milo,

Mai bhi tumse nahi milungi,

Baithi rahungi ruth kar ek jagah,

Aur tumhare manane ka intezar karungi..!

#


शहर की हर गलियों में,

तुझे ढूँढ़ते रह गए हम,

प्यार तो इतना बढ़ चूका था,

की ज़िन्दगी भर तेरा इंतज़ार करते रह गए हम।


Shahar ki har galiyon me,

Tujhe dhoondte reh gaye hum,

Pyar to itna badh chuka tha,

Ki zindagi bhar tera intezar karte reh gaye hum..!

#


मै बस तेरी हूँ,

तेरी ही रहूंगी जानेमन,

तू बस मुझे यहाँ से ले जा,

मै तेरा इंतज़ार करती रहूंगी जानेमन।


Mai bas teri hu,

Teri hi rahungi janeman,

Tu bas mujhe yaha se le ja,

Mai tera intezar karti rahungi janeman..!



Pyar intezar shayari


मेरी जान हो तुम,

मेरा पहला पहला प्यार हो तुम,

मेरे बरसो का इंतज़ार हो तुम।


Meri jaan ho tum,

Mera pehla pehla pyar ho tum,

Mere barso ka intezar ho tum..!

#


जहा यार होता है,

वहाँ प्यार होता है,

सबको इन दोनों के मिलने का,

इंतज़ार होता है।


Jaha yaar hota hai,

Waha pyar hota hai,

Sabko in dono ke milne,

Intezar hota hai..!

#


सुकून नहीं मिलता दिल को,

जब ज़िन्दगी में प्यार न हो,

मजा नहीं आता प्यार करने का,

जब प्यार में इंतज़ार न हो।


Sukun nahi milta dil ko,

Jab zindagi me pyar na ho,

Maja nahi aata pyar karne ka,

Jab pyar me intezar na ho..!

#


मासूम था चेहरा उसका,

ना थी चेहरे पर हसी,

तबसे इंतज़ार कर रहा हु मै उसका,

जबसे वो मेरे दिल में बसी।


Masum tha chehra uska,

Na thi chehre par hasi,

Tabse intezar kar raha hu mai uska,

Jabse wo mere dil me basi..!

#


तुझे ना मिलने का मतलब,

दिल तोडना नहीं होता,

वो प्यार ही क्या,

जिस प्यार में इंतज़ार नहीं होता।


Tujhe na milne ka matlab,

Dil todna nahi hota,

Wo pyar hi kya,

Jis pyar me intezar nahi hota..!



Dosti intezar shayari 2 lines in hindi


हम कहे तो चाँद तक,

तुम कहो तो बस इंतज़ार तक।


Hum kahe to chand tak,

Tum kaho to bas intezar tak..!

#


दोस्त का इंतज़ार करते करते,

थक गया हूं मै,

दोस्त को गालियां देके,

पक गया हूं मै।


Dost ka intezar karte karte,

Thak gaya hu mai,

Dost ko galiya deke,

Pak gaya hu mai..!

#


तू ही है मेरी ज़िन्दगी,

तू ही मेरा प्यार,

दोस्त है तू मेरा करले थोड़ा इंतज़ार।


Tu hi hai meri zindagi,

Tu hi mera pyar,

Dost hai tu mera karle thoda intezar..!



Tere aane ka intezar shayari in hindi


तेरे हँसने पे अच्छी लगती हो तुम मुझे,

तेरे रोने पे अच्छी लगती हो तुम मुझे,

जल्दी से मिलने आजा तू मुझे,

इतना क्यों इंतज़ार करवाती हो तुम मुझे।


Tere hasne pe achi lagti ho tum mujhe,

Tere rone pe achi lagti ho tum mujhe,

Jaldi se milne aaja tu mujhe,

Itna kyu intezar karwati ho tum mujhe..!

#


तेरे आने का इंतज़ार रहता है,

तुझसे मिलने का इंतज़ार रहता है,

अगर तू न मिले एक दिन भी मुझे,

तो तुझसे रूठ जाने का मन करता है।


Tere aane ka intezar rehta hai,

Tujhse milne ka intezar rehta hai,

Agar tu na mile ek din bhi mujhe,

To tujhse ruth jane ka mann karta hai..!

#


तेरे आने से न ये कमी पूरी होगी,

न तेरे जाने से ये कमी पूरी होगी,

दूर जाना तो एक बहाना रह जायेगा आप के लिए,

तुमसे शादी करने के बाद ही,

ये इंतज़ार की घडी पूरी होगी।


Tere aane se na ye kami puri hogi,

Na tere jaane ye kami puri hogi,

Dur jana to ek bahana reh jayenga aap ke liye,

Tumse shadi karne ke baad hi,

Ye intezar ki ghadi puri hogi..!

#


तेरे आने का गम भी नहीं,

तेरे जाने का गम भी नहीं,

इंतज़ार तो बस उसका है,

जो मुझे सच्चा प्यार दे सके।


Tere aane ka gham bhi nahi,

Tere jaane ka gham bhi nahi,

Intezar to bas uska hai,

Jo mujhe saccha pyar de sake..!

#


तितलियों सा है ये जीवन,

कभी इधर तो कभी उधर,

इतना मत सोच पगली,

तेरे प्यार में हु मै पहले ही पागल।


Titliyon sa hai ye jivan,

Kabhi idhar to kabhi udhar,

Itna mat soch pahli,

Tere pyar me hu mai pehle hi pagal..!



Call ka intezar shayari in hindi


चली गयी हो तुम दूर मुझसे,

तुम्हारा यहाँ क्या काम है,

याद करता हु तुझको दिन रात,

बस तेरे कॉल का इंतज़ार है।


Chali gayi ho tum dur mujhse,

Tumhara yaha kya kaam hai,

Yaad karta hu tujhko din Raat,

Bas tere call ka intezar hai..!

#


तुम बात करो या न करो,

हम कॉल लगा ही लेंगे,

तुम कॉल करो या न करो,

तुम्हारा इंतज़ार थोड़ा कर ही लेंगे।


Tum baat karo ya na karo,

Hum call laga hi lenge,

Tum call karo ya na karo,

Tumhara intezar thoda kar hi lenge. !

#


ना आयी तुम इस गाँव में,

शहर में ऐसा क्या है,

मिट्टी धूल बारिश का नाम है,

तेरा तो बस इस गाँव में ही इंतज़ार है।


Naa aayi tum iss gaon me,

Shahar me aisa kya hai,

Mitti dhul barish ka naam hai,

Tera to bas is gaon me hi intezar hai..!

#


कॉल का इंतज़ार तो सारी दुनिया करती है,

मिस कॉल देने वाली का इंतज़ार, 

तो सारी दुनिया करती है।


Call ka intezar to saari duniya karti hai,

Miss call dene wali ka intezar, 

To saari duniya karti hai..!

#


जिसे दुनिया चाहती है,

वो तो थी मेरी मेहबूबा,

मेरा कॉल न उठाने का,

उसे है बड़ा ही तजुर्बा।


Jise duniya chahti hai,

Wo to thi meri mehbooba,

Mera call na uthane ka,

Use hai bada hi tajurba..!



Raat bhar intezar shayari


तुम्हे क्या बताऊ एक कहानी,

है ये बस मेरी जुबानी,

रात भर इंतज़ार करता रहा मैं,

उसकी याद में रात भर जागता रहा मै।


Tumhe kya batau ek kahani,

Hai ye bas meri jubani,

Raat bhar intezar karta raha mai,

Uski yaad me raat bhar jaagta raha mai..!

#


उसकी याद में रोता,

उसकी याद में हस्ता रहा मै,

उसी का इंतज़ार सोते जागते करता रहा मैं।


Usiki yaad me rota,

Usiki yaad me hasta raha mai,

Usi ka intezar sote jagte karta raha mai..!

#


दोस्तों की मेहरबानी की अब तक जिन्दा हु मै,

तेरे मिलने का इंतज़ार रात भर करता रहा मैं।


Dosto ki meharbani ki ab tak jinda hu mai,

Tere milne ka intezar raat bhar karta raha mai..!

#


तुमसे मिलके ऐसा लगा,

की मुझे प्यार हुआ है तुमसे,

रात भर सोच के ऐसा लगा,

की इंतज़ार करलु थोड़ा दिल से।


Tumse milke aisa laga,

Ki mujhe pyar hua hai tumse,

Raat bhar soch ke aisa laga,

Ki intezar kar lu thoda dil se..!

#


प्यार की आदत न छूटी है,

न कभी ये मिटटी है,

बस रात भर इंतज़ार कर लो मेरा,

ये इंतज़ार ख़त्म होने के बाद ही मिटटी है।


Pyar ki aadat na chhutti hai,

Na kabhi ye mitti hai,

Bas raat bhar intezar kar lo mera,

Ye intezar khatm hone ke baad hi mitti hai..!



Shayari on waiting सायरी इंतजार


यू न कर तू इंतज़ार मेरा,

हम तेरे आस पास में ही है।


U na kar tu intezar mera,

Hum tere aas paas me hi hai..!

#


याद आती है वो सामने वाली,

बर्तन मांजते रहती वो सामने वाली,

यू प्यार से देखा करती थी वो मुझको,

इंतज़ार करती बाहर निकलने का वो सामने वाली।


Yaad aati hai wo samne wali,

Bartan manjate rehti wo samne wali,

You pyar se dekha karti thi wo mujhko,

Intezar karti bahar niklne ka wo samne wali..!

#


दूर रह लिया करो तुम मुझसे,

बात किया न करो कभी तुम मुझसे,

गुस्सा न करो बस तुम मुझसे,

थोड़ा इंतज़ार कर लिया करो तुम खुद से।


Dur rah liya karo tum mujhse,

Baat kiya na karo kabhi tum mujhse,

Gussa na karo bas tum mujhse,

Thoda intezar kar liya karo tum khud se..!

#


वक़्त की घड़ियाँ,

इंतज़ार में बदल गयी,

मै तेरा और तू मेरी हो गयी।


Waqt ki ghadiyan,

Intezar me badal gayi,

Mai tera aur tu meri ho gayi..!

#


कब निकलेगा कल का सवेरा,

क्यों की है मेरा तेरे दिल में बसेरा,

साथ दूंगा मै बस सिर्फ तेरा,

कल का इंतज़ार रहेगा सुनेहरा।


Kab niklega kal ka savera,

Kyu ki hai mera tere dil me basera,

Sath dunga mai bas sirf tera,

Kal ka intezar rahega sunehara..!


इसे भी पढ़े:


कुछ आखरी अल्फ़ाज़ इंतज़ार शायरी के लिए:


शायद आपको romantic intezar shayari in hindi for girlfriend पसंद आयी होगी यही मै दुआ करता हु और ऐसेही नयी नयी हिंदी शायरियाँ आपके लिए लेके आऊंगा।


ऐसेही शायरियाँ पढ़ते रहिये ये intezaar shayari in hindi for gf है लेकिन मै आपको waiting नही करने दूंगा जल्दी और एक शायरी लाऊंगा।

और नया पुराने