Beautiful Jhumka Shayari In Hindi | झुमका शायरी (2022)

आज हम आपके लिए jhumka shayari in hindi का बेहद ही खूबसूरत लेख लिखे है,Jhumka shayari in hindi,Jhumka pe shayari in hindi,Jhumka shayari 2 lines,Jhumke

दोस्तो, आज हम आपके लिए jhumka shayari in hindi का बेहद ही खूबसूरत लेख लिखे है, जो आपको पढ़ने में जरूर मज़ा आएगा और आपको पसंद भी आएगा, क्योंकि ये लेख खूबसूरत झुमके पर लिखा गया है और वो भी बेहतरीन अंदाज़ में लिखा गया है।


अगर हम झुमके की बात करे, तो ये औरत का दागिना होता है, जिसे वो अपने कानों में पहनती है, उसे ही झुमका या झुमके कहते है, और झुमके के बिना एक महिला का श्रृंगार अधूरा रहता है, इसीलिए झुमके एक महिला के श्रृंगार को पूरा कर देता है, और वो महिला सुंदर परी जैसी दिखती है।


अगर कानों में झुमके पहने हो तो एक महिला की खूबसूरती में चार चाँद लग जाते है, और उन्हें देख कर सब उनकी तारीफ किये बिना नही रहते, हम एक महिला की तारीफ हमारे लिखे गए इस jhumka shayari के माध्यम से करना चाहते है, अगर आप भी करना चाहते है किसी खूबसूरत महिला की तारीफ तो इस लेख को पूरा पढ़िए।


Beautiful Jhumka Shayari In Hindi | झुमका शायरी 


Beautiful Jhumka Shayari In Hindi | झुमका शायरी (2022)
Jhumka shayari in hindi

Table of content


  1. Jhumka shayari in hindi
  2. Jhumka pe shayari in hindi
  3. Jhumka shayari 2 lines
  4. Jhumke par shayari
  5. Shayari on jhumka 


Jhumka shayari in hindi


सुन्दर तो हर लड़की होती है,

लेकिन एक गहना उसे और भी सुन्दर बनाता है,

वो है उसका झुमका,

जो सबको भा जाता है।


Sundar to har ladki hoti hai,

Lekin ek gehna use aur bhi sundar banata hai,

Woh hai uska jhumka,

Jo sabko bha jata hai..!

#


हम पीछे बैठे थे,

और वो आगे बैठे थे,

फिर भी नज़र उनके तरफ ही थी,

उन्होंने पहने उन झुमकों की तरफ ही थी।


Hum pichhe baithe the,

Aur wo aage baithe the,

Phir bhi nazar unke taraf hi thi,

Unhone pehne un jhumko ki taraf hi thi..!

#


ये झुमके भी कितने लाजवाब होते है,

दिखने में बड़े ही सुन्दर होते है,

अगर ख़रीदने जाऊ इसे तो,

ये बड़े ही महंगे होते है।


Ye jhumke bhi kitne lajawab hote hai,

Dikhne me bade hi sundar hote hai,

Agar kharidne jau ise to,

Ye bade hi mehange hote hai..!

#


कुछ तो बात है तुझ में,

जो तुम इतनी खूबसूरत दिखती हो,

मैंने तो तुम्हे बिना झुम्के के ही देखा है,

अगर झुमके पहन लोगी तो पता नहीं तुम कैसी दिखोगी।


Kuch to baat hai tujh me,

Jo tum itni khubsurat dikhti ho,

Maine to tumhe bina jhumke ke hi dekha hai,

Agar jhumke pehan logi to pata nahi tum kaisi dikhti ho..!

#


तुम रूठ गयी हो मुझसे,

पता नहीं अब मै तुम्हे कैसे मनाऊं,

मैंने तुम्हारे लिए झुमके लाये है,

क्या इसे मैं तुम्हारे कान में पहनाऊँ।


Tum rooth gayi ho mujhse,

Pata nahi ab mai tumhe kaise manau,

Maine tumhare liye jhumke laye hai,

Kya ise mai tumhare kaan me pehnau..!

#



Jhumka pe shayari in hindi


झुमके तो पहन लिए है मैंने,

अब घर से बाहर निकलना बाकी है,

घर से निकलते ही मेरी तरफ ही देखते है लोग,

अब बस शरीफ बनना बाकी है।


Jhumke to pehan liye hai maine,

Ab ghar se bahar nikalna baki hai,

Ghar se nikalte hi meri taraf hi dekhte hai log,

Ab bas sharif banna baki hai..!

#


कौन कहता है की,

चेहरा देख कर ही प्यार होता है,

कुछ लोगों की पसंद ही कुछ और होती है,

वो झुमके देख कर चेहरा पढ़ लेते है।


Kaun kehta hai ki,

Chehra dekh kar hi pyar hota hai,

Kuch logon ki pasand hi kuch aur hoti hai,

Wo jhumke dekh kar chehra padh lete hai..!

#


प्यार तो सभी करते है,

चाहे लड़के से हो या लड़की से,

लेकिन झुमके के बिना,

लड़की रह नहीं सकती,

और लड़की के बिना झुमका।


Pyar to sabhi karte hai,

Chahe ladke se ho ya ladki se,

Lekin jhumke ke bina,

Ladki reh nahi sakti,

Aur ladki ke bina jhumka..!

#


झुमके पहनने के लिए होता है,

इसे फेंकने के लिए नहीं,

हर जगह काम आता है,

इसे भुलाने का नहीं।


Jhumka pehnne ke liye hota hai,

Ise fekne ke liye nahi,

Har jagah kaam aata hai,

Ise bhulane ka nahi..!

#



Jhumka shayari 2 lines


तेरे झुमके की रंगत,

तेरे गालों पर आती है,

जब तू मुझे देख कर शरमा जाती है।


Tere jhumke ki rangat,

Tere galon par aati hai,

Jab tu mujhe dekh kar sharma jati hai..!

#


बड़े ही खूबसूरत है तेरे ये झुमके,

मुझे तेरी और खिंच ले आते है।


Bada hi khubsurat hai tera ye jhumka,

Mujhe teri aur khinch le aata hai..!

#


आपका झुमका हमें भी दिखाया करो,

अपने झुमके को बालों से मत ढक लिया करो।


Aapka Jhumka hame bhi dikhaya karo,

Apne jhumke ko balon se mat dhak liya karo..!

#


जब तुम चलती हो,

ये झुमके भी तुम्हारे साथ चलते है,

मेरी आँखे बस तुम्हे ही देखती रहती है।


Jab tum chalti ho,

Ye jhumke bhi tumhare sath chalte hai,

Meri aankhe bas tumhe hi dekhti rehti hai..!

#



Jhumke par shayari


काश तेरे ये झुमके कही खो जाता,

और मुझे आकर बोलते,

की हम खो गया है,

हमे हमारी असली जगह पर ले जाओ।


Kash tera ye jhumka kahi kho jata,

Aur mujhe aakar bolta,

Ki mai kho gaya hu,

Mujhe meri asli jagah par le jao..!

#


तुम कितनी भी भीड़ में खो जाओ,

मै तुम्हे ढूंढ ही लूँगा,

तुम्हारे झुमके देख कर,

मै तुम्हे पहचान ही लूंगा।


Tum kitni bhi bhid me kho jao,

Mai tumhe dhoond hi lunga,

Tumhare jhumke dekh kar,

Mai tumhe pehchaan hi lunga..!

#


तुम्हारे झुमके देख कर,

ऐसा लगता है मुझे,

की ये झुमके पुराने है,

लेकिन जब तुम पहनतीं हो इसे तो नए दीखते है।


Tumhare jhumke dekh kar,

Aisa lagta hai mujhe,

Ki ye jhumke purane hai,

Lekin jab tum pehnti ho ise to naye dikhte hai..!

#


तुम जब साड़ी पहनती हो,

तब बड़ी हसीन लगती हो,

और जब कानों में झुमके पहनती हो,

तब माँ कसम मेरी मेहबूबा लगती हो।


Tum jab saree pehanti ho,

Tab badi haseen lagti ho,

Aur jab kano me jhumke pehnti ho,

Tab maa kasam meri mehbooba lagti ho..!

#



Shayari on jhumka 


तुम्हारी ओर खिंचा चला आया था मै,

तुम्हारा झुमका देख कर,

मुझे खुद को नहीं पता,

की मै तुमसे प्यार करता हू या तुम्हारे झुमके से।


Tumhari aur khincha chala aaya tha mai,

Tumhara jhumka dekh kar,

Mujhe khud ko nahi pata,

Ki mai tumse pyar karta hu ya tumhare jhumke se..!

#


पहन तो लिया झुमका तुमने,

आज मेरे हाथों से,

कही प्यार तो नहीं हो गया है तुम्हे,

मेरी मीठी बातों से।


Pehan to liya jhumka tumne,

Aaj mere hathon se,

Kahi pyar to nahi ho gaya hai tumhe,

Meri mithi baaton se..!

#


मैंने दिया हुआ झुमका जरा पहन के तो आओ,

तुम्हे जरूर अच्छा लगेगा,

शहर की गली में कभी घूमने जाओ,

तो गली का हर बच्चा तुम्हे देखता रहेगा।


Maine diya hua jhumka jara pehan ke to aao,

Tumhe jarur achha lagega,

Shahar ki gali me kabhi ghumne jao,

To gali ka har bachha tumhe dekhta rahega..!

#


इतना सुन्दर झुमका देख कर,

ऐसा लग रहा है मुझे,

की पता नहीं कैसा लग रहा है मुझे।


Itna sundar jhumka dekh kar,

Aisa lag raha hai mujhe,

Ki pata nahi kaisa lag raha hai mujhe..!

#


इसे भी पढ़े : 



कुछ आखरी शब्द :


आज जो हमने jhumka shayari in hindi पर लेख लिखा है, वो आपने पूरा पढ़ ही लिया होगा, अगर नही पढा तो जरूर पढ़कर हमे बताओ कि आपको इस झुमके शायरी का लेख कैसा लगा।


आशा करता हु की हमारा ये jhumka shayari status का लेख आपको जरूर अच्छा लगा होगा, अगर अच्छा लगा हो तो ऐसेही हिंदी शायरी यहाँ पढ़ते रहे।

एक टिप्पणी भेजें