Shayari On Kismat In Hindi | किस्मत नसीब तकदीर पर शायरी

आज हमने shayari on kismat in hindi पर एक खूबसूरत लेख लिखा है, जो अपनी किस्मत, नसीब या तकदीर को दर्शाता है, जो बहुत से लोग अपने किस्मत पर hindi shayari

दोस्तो, आज हमने shayari on kismat in hindi पर एक खूबसूरत लेख लिखा है, जो अपनी किस्मत, नसीब या तकदीर को दर्शाता है, जो बहुत से लोग अपने किस्मत पर सबसे ज्यादा भरोसा करते है, उनको तो ये लेख काफी पसंद आनेवाला है, ये लेख पढ़कर आखिर किस्मत क्या होती है ये तो जरूर समझ मे आएगा।


बहुत से लोग होते है जो अपनी किस्मत को आजमाते है, किसी को सफलता तो किसी को हार मिलती है, सब किस्मत का खेल होता है भाई, किसी को किस्मत से प्यार मिल जाता है, तो किसी को प्यार में धोखा मिलता है, वाह रे ये किस्मत सब किस्मत का खेल होता है, यार किस्मत कभी कभी कुछ अच्छा हो जाता है, लेकिन इसका मतलब ये नही की, हम किस्मत से मिलने वालों का इंतजार करते रहे, हमे मेहनत करनी पड़ेगी, किस्मत उसीकी होती है, जो ज़िन्दगी कुछ पाने के लिए मेहनत करता है।


आज इस किस्मत पर हिंदी शायरी के लेख में हमने यही बताया है कि, किस्मत उसी की चमकती है, जो सच्चे दिल से कुछ करे और खुद को साबित करना चाहता है, उसीको जल्दी किस्मत कुछ भी दे ही देती है, तो यही हमने इस लेख में शायरी के माध्यम से लिखने की कोशिश की है, तो इस लेख को पूरा पढ़िए।


Shayari On Kismat In Hindi | किस्मत नसीब तकदीर पर शायरी


Shayari On Kismat In Hindi | किस्मत नसीब तकदीर पर शायरी
Shayari on kismat in hindi

Table of content


  1. Shayari on kismat in hindi font
  2. खराब किस्मत शायरी
  3. 2 line kismat shayari
  4. Waqt aur kismat shayari
  5. मेरी किस्मत शायरी
  6. किस्मत प्यार शायरी


Shayari on kismat in hindi font


क्या किस्मत है मेरी,

जो तुम मिल गई हो मुझे,

मुझे डांटती भी हो,

तो बड़े प्यार से।


Kya kismat hai meri,

Jo tum mil gayi ho mujhe,

Mujhe dantti bhi ho,

To bade pyar se..!

#


खुद पर भरोसा रख,

किस्मत तेरी भी चमकेगी,

जिसके साथ तूने बचपन में प्यार किया था,

वो एक दिन तुझे मिलने जरुर आएगी।


Khud par bharosa rakh,

Kismat teri bhi chamkegi,

Jiske sath tune bachpan me pyar kiya tha,

Wo ek din tujhe milne jarur ayegi..!

#


धोखा देने वालों की भी,

क्या किस्मत होती है यार,

आज एक प्यार को छोड़ दिया,

तो कल हाजिर रहता है उनके लिए दूसरा प्यार।


Dhokha dene walon ki bhi,

Kya kismat hoti hai yaar,

Aaj ek pyar ko chhod diya,

To kal hajir rehta hai unke liye dusra pyar..!

#


लोग ज़िन्दगी तो जीते है,

लेकिन भरोसा खुद पर कम,

किस्मत पर ज्यादा करते है,

की एक दिन किस्मत ज़िन्दगी जरूर बदलेगी।


Log zindagi to jite hai,

Lekin bharosa khud par kam,

Kismat par jyada karte hai,

Ki ek din kismat zindagi jarur badlegi..!

#



खराब किस्मत शायरी


लोग कहते है की,

किस्मत में जो लिखा है,

वही होता है,

लेकिन तू खुद क्या कहता है,

बिना मेहनत किये ही,

किस्मत को आजमाता है।


Log kehte hai ki,

Kismat me jo likha hai,

Wahi hota hai,

Lekin tu khud kya kehta hai,

Bina mehnat kiye hi,

Kismat ko azmata hai..!

#


साथ देती है किस्मत भी उनका,

जो कुछ कर दिखाने की हिम्मत रखते है,

किस्मत ख़राब नहीं होती किसी की,

बस लोग इसे दिमाग में रखते है।


Sath deti hai kismat bhi unka,

Jo kuch kar dikhane ki himmat rakhte hai,

Kismat kharab nahi hoti kisi ki,

Bas log ise dimag me rakhte hai..!

#


कोई छोड़ गया तुम्हे,

तो क्या किस्मत ख़राब हुई तुम्हारी,

चल छोड़ दे ऐसी बेकार की बातें,

छोड़ दे ये दिल की बेकार बीमारी।


Koi chhod gaya tumhe,

To kya kismat kharab hui tumhari,

Chal chhod de aisi bekar ki baatein,

Chhod de ye dil ki bekar bimari..!

#


किसी का क्या जाता है,

तुम्हारे जीने या मरने से,

खुद पर भरोसा रख और आगे बढ़,

मत रह तू इस किस्मत के भरोसे पे।


Kisi ka kya jata hai,

Tumhare jine ya marne se,

Khud par bharosa rakh aur aage badh,

Mat reh tu iss kismat ke bharose pe..!

#



2 line kismat shayari


किस्मत से मिलने वाली रोटी,

और मेहनत की रोटी का स्वाद बिलकुल अलग होता है।


Kismat se milne wali roti,

Aur mehnat ki roti ka swad bilkul alag hota hai..!

#


किस्मत से मिलने वाला प्यार,

ज्यादा देर तक नहीं टिकता।


Kismat se milne wala pyar,

Jyada der tak nahi tikta..!

#


कुछ अलग सी है मेरी किस्मत,

पहले कष्ट देती है फिर चमकती है मेरी किस्मत।


Kuch alag si hai meri kismat,

Pehle kashth deti hai phir chamakti hai meri kismat..!

#


तुम जहा मिली थी मुझे,

वही अकेला छोड़ गयी तुम मुझे,

वाह रे मेरी किस्मत।


Tum jaha mili thi mujhe,

Wahi akela chhod gayi tum mujhe,

Wah re meri kismat..!

#



Waqt aur kismat shayari


लोग कहते है की,

किस्मत से मिला है ये प्यार तुम्हारा,

इसे खोना नहीं चाहता हु मै,

लेकिन वक़्त को जरुर खो देते हो।


Log kehte hai ki,

Kismat se mila hai ye pyar tumhara,

Ise khona nahi chahta hu mai,

Lekin waqt ko jarur kho dete ho..!

#


किस्मत से मिलता है,

ये वक़्त हमे इसे जाया न करो,

ये रुकता नहीं किसी के लिए,

इसे अच्छे कामों में लगाया करो।


Kismat se milta hai,

Ye waqt hume ise jaya na karo,

Ye rukta nahi kisi ke liye,

Ise achhe kamon me laya karo..!

#


ये वक़्त भी क्या चीज़ है,

किसी के ज़िन्दगी में बहार लाता है,

तो किसी की ज़िन्दगी तबाह कर जाता है,

ये वक़्त किस्मत का खेल-खेल जाता है।


Ye waqt bhi kya chiz hai,

Kisi ke zindagi me bahaar lata hai,

To kisi ki zindagi tabah kar jata hai,

Ye waqt kismat ka khel-khel jata hai..!

#


तूफान जब आता है,

तो वो वक़्त पूछ कर नहीं आता,

किस्मत भी वैसे ही है,

हाथों की लकीरें देख कर नहीं चमकती,

बस चमक जाती है।


Tufan jab aata hai,

To wo waqt pucch kar nahi aata,

Kismat bhi waise hi hai,

Hathon ki lakeeren dekh kar nahi chmakti,

Bas chamak jati hai..!

#



मेरी किस्मत शायरी


मेरी किस्मत भी क्या क़िस्मत है,

जिसको बहुत चाहा मैंने,

वही मुझे छोड़ के चली गयी,

थोड़ा हंसा गयी बहुत ज्यादा रुला गयी।


Meri kismat bhi kya kismat hai,

Jisko bahut chaha maine,

Wahi mujhe chhod ke chali gayi,

Thoda hansa gayi bahut jyada rula gayi..!

#


मेरी ज़िन्दगी में तुम क्या आये,

मेरी तो किस्मत ही बदल गयी,

मुझे अच्छी खासी नौकरी लगी थी,

लेकिन वो भी तुम खा गए।


Meri zindagi me tum kya aaye,

Meri to kismat hi badal gayi,

Mujhe achhi khasi naukari lagi thi,

Lekin wo bhi tum kha gaye..!

#


कोई मिलता है अजनबी सा,

और प्यार हो जाता है उनसे हमे,

अब कैसे समझे की,

वो भी प्यार करता है या नहीं मुझे,

सब किस्मत का खेल है।


Koi milta hai ajnabi sa,

Aur pyar ho jata hai unse hume,

Ab kaise samjhe ki,

Wo bhi pyar karta hai ya nahi mujhe,

Sab kismat ka khel hai..!

#


प्यार तो हुआ था मुझे एक लड़की से,

वो भी प्यार करती थी शायद मुझसे,

सब कुछ ठीक था तब तक,

जब तक मुझसे शादी करोगी क्या ये सवाल पुछा था मैंने उसे,

बाद में वो तो चली गयी मुझे छोड़के,

किस्मत को पलटते हुए उस दिन देखा था मैंने।


Pyar to hua tha mujhe ek ladki se,

Wo bhi pyar karti thi shayad mujhse,

Sab kuch thik tha tab tak,

Jab tak mujhse shadi karogi kya ye sawal puchha tha maine use,

Baad me wo to chali gayi mujhe chhodke,

Kismat ko palatte huye us din dekha tha maine..!

#



किस्मत प्यार शायरी


आज समझ में आया मुझे,

कि प्यार किसी के साथ भी हो जाये,

वो आखरी तक टिकने का कोई भरोसा नहीं,

किस्मत होना भी जरुरी है,

प्यार का सफल होने के लिए।


Aaj samajh me aaya mujhe,

Ki pyar kisi ke sath bhi ho jaye,

Wo akhri tak tikne ka koi bharosa nahi,

Kismat hona bhi jaruri hai,

Pyar ka safal hone ke liye..!

#


कितना खुश रहते है हम,

हमे प्यार होने के बाद,

लेकिन जब दिल टूट जाता है,

तो कहते है मेरी फूटी किस्मत थी यार।


Kitna khush rehte hai hum,

Hume pyar hone ke baad,

Lekin jab dil tut jata hai,

To kehte hai meri futi kismat thi yaar..!

#


कभी आज़मा कर देखना,

की किस्मत से मिलने वाली चीजें,

ज्यादा देर तक नहीं रहती,

आखिर वो दर्द दे ही जाती है।


Kabhi azma kar dekhna,

Ki kismat se milne wali chijen,

Jyada der tak nahi rehti,

Akhir wo dard de hi jati hai..!

#


तेरी किस्मत ने भी क्या दिया तुझे,

प्यार दिया तो एक तरफ़ा दिया,

और धोखा दिया वो भी एक तरफ़ा,

अब शिकायत करेगा भी तो किससे करेगा।


Teri kismat ne bhi kya diya tujhe,

Pyar diya to ek tarfa diya,

Aur dhokha diya wo bhi ek tarfa,

Ab shikayat karega bhi to kisse karega..!

#


इसे भी पढ़े : 



कुछ आखरी शब्द :


आज जो हमने shayari on kismat in hindi पर लेख लिखा है, वो आपने पूरा पढ़ ही लिया होगा, अगर नही पढा तो जरूर पढ़कर हमे बताओ कि आपको इस किस्मत तकदीर शायरी इन हिंदी का लेख कैसा लगा।


आशा करता हु की हमारा ये kismat shayari in hindi का लेख आपको जरूर अच्छा लगा होगा, अगर अच्छा लगा हो तो ऐसेही हिंदी शायरी यहाँ पढ़ते रहे।

एक टिप्पणी भेजें