Best Kadar Shayari In Hindi | कदर (अहमियत) शायरी इन हिंदी

आपके लिए kadar shayari hindi का लेख बड़े कातिलाना शायराना अंदाज़ में लिखा है, जिसमे किसी की कदर या अहमियत शायरी लिखी गयी है, जो बताती है कि, सबकी कदर

दोस्तो, आज हमने आपके लिए kadar shayari hindi का लेख बड़े कातिलाना शायराना अंदाज़ में लिखा है, जिसमे किसी की कदर या अहमियत शायरी लिखी गयी है, जो बताती है कि, सबकी कदर करना सीखना चाहिए, जो एक दूजे का प्यार बढ़ाता है।


हमे घर मे यही सिखाया जाता है कि, बड़ो की इज्जत करनी चाहिए, उनका हर कहा मानना चाहिए, और वो सही भी है, तभी तो बड़ो को हमारी कदर होगी, और हमे उनकी, और यही हमारे देश की संस्कृति है, जो हम सब मे प्यार की भावना एक दूजे के प्रति जगाती है, इसे हमे बहुत आगे लेकर जाना है, और हर एक व्यक्ति की को कदर करना सिखाना है।


आप तो जानते ही है कि, सबसे कभी ना कभी तो गलती होती ही रहती है, चाहे वो छोटे हो या बड़े लेकिन हम सिर्फ छोटे पर सारा गलती का दोष डालते है, तो ये तो सही नही, इसीलिए हम सबने समझना चाहिए और सबकी कद्र करना चाहिए इसीलिए हमने आज कदर शायरी इन हिंदी का लेख आपके लिए लिखा है, इसे पूरा पढ़िए।


Best Kadar Shayari In Hindi | कदर (अहमियत) शायरी इन हिंदी


Best Kadar Shayari In Hindi | कदर (अहमियत) शायरी इन हिंदी
Kadar shayari hindi

Table of content


  1. Kadar shayari hindi
  2. Rishton ki kadar shayari in hindi
  3. Pyar ki kadar shayari in hindi
  4. Dosti ki kadar shayari in hindi
  5. Kadar quotes in hindi
  6. कदर शायरी इन हिंदी-अहमियत शायरी


Kadar shayari hindi


गलती बड़े की हो या छोटे की,

ताने तो लोग छोटे को ही मारते है,

कहते है कदर करना सीख ले,

तुमसे बड़े है वो।


Galti bade ki ho ya chhote ki,

Tane to log chhote ko hi marte hai,

Kehte hai kadar karna sikh le,

Tumse bade hai wo..!

#


किसी को कितना भी अच्छा बताओ,

वो तुम्हारी कभी सुनता ही नहीं,

इसीलिए खुद की खुद ही कदर करो,

दूसरों को अच्छा बताके कोई फायदा नहीं।


Kisi ko kitna bhi achha batao,

Wo tumhari kabhi sunta hi nahi,

Isiliye khud ki khud hi kadar karo,

Dusro ko achha batake koi fayda nahi..!

#


किसी की कदर ज्यादा करना भी बेकार है,

सर पे कब चढ़ जाये,

बता नहीं सकते,

और चढ़ जाये तो,

उसे जल्दी उतार नहीं सकते।


Kisi ki kadar jyada karna bhi bekar hai,

Sir pe kab chadh jaye,

Bata nahi sakte,

Aur chadh jaye to,

Use jaldi utar nahi sakte..!

#


कदर उसकी करो,

जो हमारी भी कदर करता हो,

ऐसा न हो की वो आपकी कदर न करे,

और आप करे तो बस उसकी कदर।


Kadar uski karo,

Jo hamari bhi kadar karta ho,

Aisa na ho ki wo apki kadar na kare,

Aur aap kare to bas uski kadar..!

#



Kadar quotes in hindi


प्यार उनसे करो,

जो आपकी फ़िक्र करे,

जो प्यार की कदर नहीं करता,

उसकी फ़िक्र कर के क्या फायदा।


Pyar unse karo,

Jo aapki fikr kare,

Jo pyar ki kadar nahi karta,

Uski fikr kar ke kya fayda..!

#


किसीसे प्यार करो मगर,

इतना भी मत करो,

की वो आपकी कदर करना ही छोड़ दे,

अकसर वही लोग धोखा देते है।


Kisise pyar karo magar,

Itna bhi mat karo,

Ki wo apki kadar karna hi chhod de,

Aksar wahi log dhokha dete hai..!

#


जब भी हम प्यार में होते है,

तब एक दूजे की कदर नहीं होती,

जब अलग हो जाते है न,

तो मिलने को बेकरार होते है।


Jab bhi hum pyar me hote hai,

Tab ek duje ki kadar nahi hoti,

Jab alag ho jate hai na,

To milne ko bekarar hote hai..!

#


वक़्त ही है,

जिसकी आज कदर की जा सकती है,

वरना आज कल तो,

अपने ही अपनों को,

छोड़ के चले जाते है।


Waqt hi hai,

Jiski aaj kadar ki ja sakti hai,

Warna aaj kal to,

Apne hi apno ko,

Chhod ke chale jate hai..!

#



Rishton ki kadar shayari in hindi


रिश्तों में एक दूजे की,

कदर होना भी जरुरी है,

चाहे रिश्ते किसी से भी हो,

अच्छे रिश्ते बनाना जरुरी है।


Rishton me ek duje ki,

Kadar hona bhi jaruri hai,

Chahe rishtein kisi se bhi ho,

Achhe rishte banana jaruri hai..!

#


रिश्ता प्यार का हो,

या दुश्मनी का हो,

अगर कदर करने से,

प्यार बढ़ता है और दुश्मनी,

खत्म होती है,

तो कदर करना जरुरी है।


Rishta pyar ka ho,

Ya dushmani ka ho,

Agar kadar karne se,

Pyar badhta hai aur dushmani,

Khatam hoti hai,

To kadar karna jaruri hai..!

#


इंसान प्यार तो करता है,

प्यार का रिश्ता भी निभाता है,

लेकिन जब प्यार को छोड़ के जाता है,

बेकदर हो जाता है।


Insan pyar to karta hai,

Pyar ka rishta bhi nibhata hai,

Lekin jab pyar ko chhod ke jata hai,

Bekadr ho jata hai..!

#


वक़्त किसी के लिए नहीं ठहरता है,

वो उसके हिसाब से ही चलता है,

हर एक इंसान उस वक़्त की कदर करता है,

लेकिन अपने परिवार को वक़्त देना भूल जाता है।


Waqt kisi ke liye nahi thehrta hai,

Wo uske hisab se hi chalta hai,

Har ek insan us waqt ki kadar karta hai,

Lekin apne pariwar ko waqt dena bhool jata hai..!

#



Pyar ki kadar shayari in hindi


प्यार में दो दिल धड़कते है,

एक दूजे को मिलने के लिए तड़पते है,

अगर मिल न पाये एक दूजे को तो,

उसकी कदर करना ही छोड़ देते है।


Pyar me do dil dhadkate hai,

Ek duje ko milne ke liye tadpte hai,

Agar mil na paye ek duje ko to,

Uski kadar karna hi chhod dete hai..!

#


कितनी आसानी से छोड़ जाते है लोग अपने प्यार को,

बिन बताये ही धोखा देकर चले जाते है अपने प्यार को,

शायद वो प्यार ही नहीं करते,

या फिर उस प्यार की कदर नहीं करते।


Kitni aasani se chhod jate hai log apne pyar ko,

Bin bataye hi dhokha dekar chale jate hai apne pyar ko,

Shayad wo pyar hi nahi karte,

Ya phir us pyar ki kadar nahi karte..!

#


प्यार की कदर करना सिख लो,

प्यार से प्यार करना सीख लो,

वो बाजार में पैसो के भाव नहीं बिकता,

प्यार एक एहसास है,

जो किसी किसी को ही मिलता है।


Pyar ki kadar karna sikh lo,

Pyar se pyar karna sikh lo,

Wo bazar me paiso ke bhav nahi bikta,

Pyar ek ehsaas hai,

Jo kisi kisi ko hi milta hai..!

#


तुमसे प्यार है कहते है लोग,

और साथ भी रह लेते है लोग,

लेकिन एक दिन कोई भी मजबूरी बताकर,

उसी प्यार को छोड़ जाते है लोग।


Tumse pyar hai kehte hai log,

Aur sath bhi reh lete hai log,

Lekin ek din koi bhi majboori batakar,

Usi pyar ko chhod jate hai log..!

#



Dosti ki kadar shayari in hindi


कदर करे जो दोस्ती की,

उसकी कदर सारी दुनिया करे,

अगर ऐसी दोस्ती रहे,

तो ये दोस्ती हमेशा अमर रहे।


Kadar kare jo dosti ki,

Uski kadar sari duniya kare,

Agar aisi dosti rahe,

To ye dosti hamesha amar rahe..!

#


काम के वक़्त ही,

दोस्त याद आते है,

बाकि दिन दोस्त को भूल जाते है,

ऐसे में हम दोस्त की कदर नहीं करते है।


Kaam ke waqt hi,

Dost yaad aate hai,

Baki din dost ko bhool jate hai,

Aise me hum dost ki kadar nahi karte hai..!

#


दोस्त अमीर हो या गरीब हो,

दोस्त तो दोस्त होता है,

एक दोस्त की कदर क्या है,

वो मुश्किल घड़ी में पता चलता है।


Dost amir ho ya garib ho,

Dost to dost hota hai,

Ek dost ki kadar kya hai,

Wo mushkil ghadi me pata chalta hai..!

#


किसी की कदर तब तक नहीं करते लोग,

जब तक खुद पर कोई मुसीबत न आये,

किसी की कदर तब करते है लोग,

जब खुद पर मुसीबत आये।


Kisi ki kadar tab tak nahi karte log,

Jab tak khud par koi musibat na aaye,

Kisi ki kadar tab karte hai log,

Jab khud par musibat aaye..!

#



कदर शायरी इन हिंदी-अहमियत शायरी


मेहनत के पैसों की कदर होती है जनाब यहाँ,

दो नंबर से कमाए हुए पैसों की नही,

अब बोलोगे बात तो एक ही है,

लेकिन यहाँ ऐसा कुछ भी नही।


Mehnat ke paiso ki kadar hoti hai janab yaha,

Do number se kamaye huye paiso ki nahi,

Ab bologe baat to ek hi hai,

Lekin yaha aisa kuch bhi nahi..!

#


अगर कोई हमे याद करता है,

तो समझ लेना की,

उसे तुम्हारी जरुरत है,

कदर तो बिलकुल भी नहीं।


Agar koi hume yaad karta hai,

To samjh lena ki,

Use tumhari jarurat hai,

Kadar to bilkul bhi nahi..!

#


जिसने प्यार की कदर की होती है,

अक्सर वही दिल टूट जाते है,

उन्हें ही लोग छोड़ जाते है,

प्यार में धोखा दे जाते है,

अंदर से दिल तोड़ जाते है।


Jisne pyar ki kadar ki hoti hai,

Aksar wahi dil tut jate hai,

Unhe hi log chhod jate hai,

Pyar me dhokha de jate hai,

Andar se dil tod jate hai..!

#


कोशिश तो बहुत करते हो,

उनको मनाने की तुम,

लेकिन वो तो सुनते ही नहीं तुम्हारी,

शायद कदर नहीं है उनको तुम्हारी,

छोड़ दो यार ऐसी प्यार की बीमारी।


Koshish to bahut karte ho,

Unko manane ki tum,

Lekin wo to sunte hi nahi tumhari,

Shayad kadar nahi hai unko tumhari,

Chhod do yaar aisi pyar ki bimari..!

#


इसे भी पढ़े : 



कुछ आखरी शब्द :


आज जो हमने kadar shayari in hindi पर लेख लिखा है, वो आपने पूरा पढ़ ही लिया होगा, अगर नही पढा तो जरूर पढ़कर हमे बताओ कि आपको इस कदर बेकदर शायरी इन हिंदी का लेख कैसा लगा।


आशा करता हु की हमारा ये shayari on kadar in hindi का लेख आपको जरूर अच्छा लगा होगा, अगर अच्छा लगा हो तो ऐसेही हिंदी शायरी यहाँ पढ़ते रहे।

एक टिप्पणी भेजें