Happy Republic Day Poem In Hindi | गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में (2022)

आज हमने happy republic day poem in hindi लिखी है, जिसमे गणतंत्र दिवस का महत्व बताया गया है, जिसे जानना हर भारतीयों को जरूरी है,आप इस 26 जनवरी कविता

दोस्तो, आज हमने happy republic day poem in hindi लिखी है, जिसमे गणतंत्र दिवस का महत्व बताया गया है, जिसे जानना हर भारतीयों को जरूरी है,आप इस 26 जनवरी कविता के माध्यम से लोगों इस गणतंत्र दिवस पर उन्हें इस दिन का महत्व समझा सकते है।


भारत मे 26 जनवरी का ये दिन पूरा देश बड़े ही जोरो शोरो से मनाता है, भारत के स्कूल, कॉलेज, सरकारी दफ्तर, हर चौक में इस दिन को मनाया जाता है, जिसे गणतंत्र दिवस के नाम से मनाया जाता है, स्कूल का हर बच्चा इसे स्कूल जाकर मनाता है, झंडा लहराता है, देश का राष्ट्रगान गाता है, तिरंगे को सलाम करता है।


26 जनवरी का इतिहास बड़ा दिलचस्प है, 26 जनवरी 1950 में जब हमारे देश मे संविधान लागू किया गया था, उस दिन से देश मे 26 जनवरी का दिन गणतंत्र दिवस के नाम से मनाया जाता है, इस दिन को दिल्ली में देश के राष्ट्रपति हमारे प्यारे देश का तिरंगा फहराते है, और उसे सलाम करते है, और हमारे देश के वीर जवान राजपथ पर परेड करते है, और तिरंगे को सलाम करते है।


ये थी 26 जनवरी का कुछ ज्ञान और यादें, इसीका महत्व बताती है, ये हमारी गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में लिखी गयी कविताएँ, तो इसे पूरा पढ़िए और गणतंत्र दिवस पर देश के लोगो को इसे सुनाइये।


Happy Republic Day Poem In Hindi | गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में (2022)


Happy Republic Day Poem In Hindi | गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में (2022)
Happy republic day poem in hindi image

Table of content


  1. Happy republic day poem in hindi
  2. आया आज ये गणतंत्र दिन हमारा कविता
  3. 26 जनवरी के लिए कविता
  4. Poem on 26 january in hindi
  5. 26 जनवरी पर स्कूल में बोलने के लिए कविता
  6. 26 january poem for school students in hindi
  7. गणतंत्र दिवस के लिए कविता
  8. गणतंत्र दिवस की बधाई कविता
  9. गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में
  10. Short poem on republic day in hindi



Happy republic day poem in hindi for students


आया आज ये गणतंत्र दिन हमारा,

मनाये इसे हमारा भारत सारा।


इस दिन भारत का संविधान लागु करवाया,

26 जनवरी 1950 का दिन था वो प्यारा।


उस दिन भारत का तिरंगा लहराया,

पहले राष्ट्रपति के हाथों झेंडा फेहराया।


21 टोफो की सलामी के साथ,

भारत को पूर्व गणतंत्र घोषित करवाया।


अब थी देश के जवानों की बारी,

दिल्ली के राजपथ पर उन्होंने परेड दिखाई।


लोगों ने तालियां बजाई,

पूरे राजपथ पर तालियों की आवाज़ गूँज आयी।


ऐसे ही उस दिन पहला गणतंत्र दिन मनाया,

भारत देश के इतिहास में ये दिन छप गया।


आया आज ये गणतंत्र दिन हमारा,

मनाये इसे हमारा भारत सारा।



आया आज ये गणतंत्र दिन हमारा कविता


Aaya aaj ye gantantra din hamara,

Manaye ise hamara bharat sara..!


Iss din bharat ka samvidhan lagu karvaya,

26 January 1950 ka din tha wo pyara..!


Us din bharat ka tiranga lehraya,

Pehle rashtrapati ke hathon Zenda fehraya..!


21 tofo ki salami ke sath,

Bharat ko purv gantantra ghoshit karvaya..!


Ab thi desh ke jawanon ki baari,

Delhi ke rajpath par unhone parade dikhai..!


Logon ne taliya bajai,

Pure rajpath par taliyon ki awaz gunj aayi..!


Aise hi us din pehla gantantra din manaya,

Bharat desh ke itihas me ye din chhap gaya..!


Aaya aaj ye gantantra din hamara,

Manaye ise hamara bharat sara..!



26 जनवरी के लिए कविता


जीते है हम शान से,

जवानों की बदौलत,

हम रखते है खयाल हर जवानो की।


कितना सम्मान करते है,

हम जवानो की।


खुद जाकर देखो तो सरहद पर,

छूट जायेगे पसिने हर मर्दानं की।


घर से ही कुछ भी बोलने वाले हर इंसान,

समझ जाओ बलिदान देश के जवानों की।


याद रखो बस उनकी शहादत,

है दरख़ास्त एक हिंदुस्तानी की।


हो स्वतंत्रता या गणतंत्र दिवस,

याद करो हमारे देश के वीरों की।


मर मिटेंगे देश के लिए हम जरुरत पड़ी तो,

कसम है इस भारत वासी की।


मनाएंगे हर साल गणतंत्र दिवस ये,

वादा है इस भारत वासी की।


जीते है हम शान से,

जवानों की बदौलत,

हम रखते है खयाल हर जवानो की।



Poem on 26 january in hindi


Jite hai hum shan se,

Jawano ki badaulat,

Hum rakhte hai khayal har jawano ki..!


Kitna samman karte hai,

Hum jawano ki..!


Khud jakar dekho to sarhad par,

Chut jayege pasine har mardan ki..!


Ghar se hi kuch bhi bolne wale har insaan,

Samajh jao balidan desh ke jawano ki..!


Yaad rakho bas unki shahadat,

Hai darkhast ek hindustani ki..!


Ho swatantrata ya gantantra diwas,

Yaad karo hamare desh ke veero ki..!


Bharat me rehte tum ho to,

Yaadein rakho dil me har shahid jawano ki..!


Mar mitenge desh ke liye hum jarurat padi to,

Kasam hai iss bharat vasi ki..!


Manayenge har saal gantantra diwas ye,

Wada hai iss bharat vasi ki..!


Jite hai hum shan se,

Jawano ki badaulat..!

Hum rakhte hai khayal har jawano ki..!



26 जनवरी पर स्कूल में बोलने के लिए कविता


लागु हो गया इस दिन संविधान हमारा,

पढ़ना चाहिए सबको ये आज।


आज़ादी हर मज़हब की इस देश में,

क्या है ये पढ़ लो तुम आज।


देश के हर व्यक्ति को है यहाँ एक समान अधिकार,

संविधान के हर पन्ने पर पढलो तुम आज।


रहते है हर मज़हब के लोग यहाँ,

ये भारत देश की धरती है महान।


ख़याल रखो इस धरती माँ का,

मज़हब से ऊपर है ये भारत धरती माँ।


कुछ लोग कहेंगे छोडो इसको,

दंगो का करो ऐलान।


समझ सको तो समझ भी जाओ,

मिलजुल कर रहो इस भारत धरती पर आप।


सबकी है ये भारत की भूमि,

इसे तुम दो दिल से सम्मान।


छोडो इस हिन्दू मुस्लिम के झगडे को,

इस देश के हम वासी है एक समान।


आओ मिले गले हम सब जन,

इसमें न कोई हो हिन्दू या मुस्लमान।


इंसानियत दिखाओ मेरे यारो,

है आखिर हम एक इंसान।


लागु हो गया इस दिन संविधान हमारा,

पढ़ना चाहिए सबको ये आज।



26 january poem for school students in hindi


Lagu ho gaya iss din samvidhan hamara,

Padhna chahiye sabko ye aaj..!


Azadi har mazhab ki iss desh me,

Kya hai ye padh lo tum aaj..!


Desh ke har vyakti ko hai yaha ek saman adhikar,

Samvidhan ke har panne par padh lo tum aaj..!


Rehte hai har mazhab ke log yaha,

Ye bharat desh ki dharti hai mahan..!


Khayal rakho iss dharti maa ka,

Mazhab se upar hai ye bharat dharti maa..!


Kuch log kahenge chhodo isko,

Dango ka karo ailan,


Samajh sakho to samajh bhi jao,

Miljul kar raho iss bharat dharti par aap..!


Sabki hai ye bharat ki bhumi,

Ise tum do dil se samman..!


Chhodo iss hindu muslim ke jhagde ko,

Iss desh ke hum vasi hai ek saman..!


Aao mile gale hum sab jan,

Isme na koi ho hindu ya musalman..!


Insaniyat dikhao mere yaro,

Hai akhir hum ek insan..!


Lagu ho gaya iss din samvidhan hamara,

Padhna chahiye sabko ye aaj..!



गणतंत्र दिवस के लिए कविता


गणतंत्र दिवस की बधाई,

देनी है हम सबको आज।


हर किसी के घर पर जाकर,

सबको सवेरे उठाना है आज।


इस दिन का महत्त्व कुछ ही लोग जानते है,

सबको एक गीत सुनाकर इस दिन का महत्व बताना है आज।


भारत देश के हर निवासी,

सवेरे उठ जाना है आज।


राजपथ पथ पर आज जवानो की,

परेड देखना है आज।


हर राज्य की झांकिया देखने पर,

तालियां बजानी है आज।


गणतंत्र दिवस के इस मौके को,

यादगार बनाना है आज।


देखो भारत माता के जवानों को,

सलाम करना है सभी जवानों को आज।


गणतंत्र दिवस की बधाई,

देनी है हम सबको आज।



गणतंत्र दिवस की बधाई कविता


Gantantra diwas ki badhai,

Deni hai hum sabko aaj..!


Har kisi ke ghar par jakar,

Sabko savere uthaana hai aaj..!


Iss din ka mahatv kuch hi log jante hai,

Sabko ek geet sunakar iss din ka mahatva batana hai aaj..!


Bharat desh ke har niwasi,

Savere uth jana hai aaj..!


Rajpath path par aaj jawano ki,

Parade dekhna hai aaj..!


Har rajya ki zankiya dekhne par,

Taliya bajani hai aaj..!


Gantantra diwas ke iss mauko ko,

Yaadgar banana hai aaj..!


Dekho bharat mata ke jawanon ko,

Salam karna hai sabhi jawano ko aaj..!


Gantantra diwas ki badhai,

Deni hai hum sabko aaj..!



गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में


आओ आओ सब बच्चे आओ,

गणतंत्र दिवस पर एक प्यारा सा गीत सुनाओ।


गणतंत्र दिवस के इस अवसर पर,

स्कूल में सब झंडा लहराओ।


देश का राष्ट्रगान तुम गाओ,

देश के तिरंगे को सलाम कर जाओ।


देश के वीर जवानों को तुम,

श्रद्धा सुमन चढाओ।


देश भक्ति पर गीत सुनाओ,

देश का गीत सबसे ऊँचा गाओ।


गणतंत्र दिवस का मतलब समझाओ,

इसका इतिहास तुम सबको बतलाओ।


देश को आगे लेकर तुम जाओ,

दुनिया में भारत देश का नाम कर जाओ।


डटकर मुश्किलों का सामना कर जाओ,

देश के साथ तुम आगे बढ़ते जाओ।


आओ आओ सब बच्चे आओ,

गणतंत्र दिवस पर एक प्यारा सा गीत सुनाओ।



Short poem on republic day in hindi


Aao aao sab bachhe aao,

Gantantra diwas par ek pyara sa geet sunao..!


Gantantra diwas ke iss avsar par,

School me sab Zenda lehrao..!


Desh ka rashtragan tum gao,

Desh ke tirange ko salam kar jao..!


Desh ke veer jawano ko tum,

Shradha suman chadhao..!


Desh bhakti par geet sunao,

Desh ka geet sabse uncha gao..!


Gantantra diwas ka matlab samjhao,

Iska itihaas tum sabko batlao..!


Desh ko aage lekar tum jao,

Duniya me bharat desh ka naam kar jao..!


Datkar mushkilon ka samna kar jao,

Desh ke sath tum aage badhte jao..!


Aao aao sab bachhe aao,

Gantantra diwas par ek pyara sa geet sunao..!



इसे भी पढ़े : 


कुछ आखरी शब्द :


आज लिखी हुई happy republic day poem in hindi आपने पूरी पढ़ ली हो तो आपको जरूर हमारे इस गणतंत्र दिवस पर कविता हिंदी में से कुछ सीखने को मिला होगा, 26 जनवरी के इस दिन को खूबसूरत अब हमें बनाना है, इस बार हमें दुनिया को दिखाना है।


आशा करता हु की हमारी 26 जनवरी पर कविता आपको जरूर अच्छी लगी होगी। अगर अच्छी लगी हो तो ऐसेही हिंदी कविता यहाँ पढ़ते रहे।

एक टिप्पणी भेजें